हैदराबाद। आंध्र प्रदेश हिंदी अकादमी, हैदराबाद के तत्त्वावधान में शनिवार 25 जनवरी 2014 को सुंदरय्या विज्ञान केंद्र (मिनी), बाग़ लिंगमपल्ली, हैदराबाद में तेलुगु के सुप्रसिद्ध प्रजाकवि पद्मभूषण डॉ. कालोजी नारायण राव की पुस्तक ‘ना गोड़वा’ के हिंदी अनुवाद ‘मेरी आवाज’ का लोकार्पण डॉ. के दिवाकरा चारी (निदेशक, आंध्र प्रदेश हिंदी अकादमी, हैदराबाद) की अध्यक्षता में संपन्न हुआ | 

इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री बी. नरसिंग राव (फ़िल्म निर्देशक एवं कालोजी शत-जयंती उत्सव समिति के संरक्षक, वरंगल), विशिष्ट अतिथि श्री वरवर राव (प्रमुख क्रांतिकारी कवि), आत्मीय अतिथि प्रो. ऋषभदेव शर्मा (अध्यक्ष, उच्च शिक्षा और शोध संस्थान द.भा.हिंदी प्रचार सभा, हैदराबाद) एवं मुख्य वक्ता के रूप में श्री. एस. जीवन कुमार (राज्य अध्यक्ष, मानवाधिकार संरक्षण मंच), श्री निखिलेश्वर (प्रमुख कवि एवं अनुवादक) एवं श्री विद्यार्थी (कवि,कालोजी फाउंडेशन, वरंगल) मंचासीन हुए | 

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में पधारे वरंगल के फ़िल्म निर्देशक श्री बी. नरसिंग राव ने ‘मेरी आवाज’ पुस्तक का लोकार्पण किया एवं अपना व्यक्तव्य तेलुगु में प्रस्तुत किया | सभी वक्तागणों ने अपने विचार तेलुगु में ही व्यक्त किये | सिर्फ ऋषभदेव शर्माजी ने ही अपनी समीक्षा हिंदी में प्रस्तुत की थी | कार्यक्रम के दौरान ‘मेरी आवाज’ के अनुवादकों को भी सम्मानित किया गया | सभा का संचालन अंग्रेजी एवं विदेशी भाषा विश्वविद्यालय (इफ्लू), हैदराबाद के हिंदी एवं भारत अध्ययन विभाग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. एम. वेंकटेश्वर ने किया | 

रिपोर्ताज: संपत देवी मुरारका लेखिका यात्रा विवरण मीडिया प्रभारी हैदराबाद

0 comments:

 
Top